बच्चो ने मदर्स डे पर लुक्का-छुप्पी गीत गाकर सभी को किया मंत्रमुग्ध

रिपोर्टर-अमित सिन्हा

“मदर्स डे” पर बच्चो का दिखा जज़्बा, माँ को स्वरों के माध्यम से गीत समर्पित कर किया नमन-

राजधानी लखनऊ के जयपुरिया स्कूल की कुर्सी रोड शाखा में शनिवार को धूमधाम से “मदर्स डे” का आयोजन किया गया ।

उक्त कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण बच्चो का समूहगान रहा जिसमे बच्चो ने सुर से सुर मिलाकर स्वागत गीत व लुक्का छुप्पी जैसे गीत गाकर समा बांध दिया नन्हे कलाकारों के द्वारा स्वरों से संजे इस कार्यक्रम ने वास्तविकता में माँ के वृहदतम स्वरूप के दर्शन करा दिए बच्चो के द्वारा दी गयी प्रस्तुतियो को देखकर सभी दर्शक दीर्घा में बैठे बच्चो के द्वारा करतल ध्वनि से पूरा विद्यालय गुंजायमान हो गया उक्त समूहगान में सभी उम्र के बच्चो का समावेश दिखाई दिया कार्यक्रम के दौरान हेड मिस्ट्रेस संचिता श्रीवास्तव, व
स्कूल की प्रधानाचार्या तुहीना श्रीवास्तव से हमारे संवाददाता ने खास बातचीत की जिसमे उन्होंने बताया कि माँ का स्थान पूरे ब्रह्मांड में सर्वोपरि है और सभी बच्चो को इसके महत्व को समझाना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी भी है जिस कारणवश आज बड़े स्तर पर विद्यालय में मातृ दिवस को धूमधाम से मनाया जा रहा है ।

जिसमे विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमो का भी आयोजन किया गया है आज के इस कार्यक्रम में “मदर्स डे” स्पेशल के तौर पर प्री-प्राइमरी से कक्षा 10 तक सभी आयुवर्ग के बच्चो ने बढ़चढ़ कर कार्यक्रम में अपनी सहभागिता निभाई है व नृत्य की प्रस्तुतियां भी दी है म्यूजिक टीचर गौरव बाजपेयी लगातार बच्चो को अपने कठिन परिश्रम द्वारा बच्चो को ट्रेंड कर सँगीत की विधिवत रुप से प्रशिक्षण देते चले आ रहे जिस श्रृंखला में बच्चो की शानदार प्रस्तुतियां देखने को मिल रही है
समूहगान में बच्चो की भारी संख्या दिखाई दी जिसमे कक्षा 3,4,5,6,7,8,9 के बच्चो ने प्रतिभाग लिया जिसमे मुख्य रुप से शेजा,अनब, वशिष्ठा ,वैष्णवी , भाविक, आतिफा, एनी, निदा, अन्यया, मिशिका, आराध्या, विभोर, आदर्श, गौरवी, प्रखर, प्रकृति, सार्थक, निभा, नैंसी , फातिमा, विभा, आरना, विनायक, लाइबा, सानवी, माही, यथार्थ , शायरा , अब्दुल्ला ,
जनावी,रतिमा,श्रेया, चैताली,मनाल,शाइशता,दिव्यांशी,जाह्नवी,सुनिष्का,रिद्धिमा, विभा,लक्ष्या,तमजीद,हमदा,काव्या,अरीज,सादाब,नूर,हमदा,स्नेहल,काव्या,अरीज,शादाब,नूर,मानसी,तनवी, अदीबा,नसरा,सोनाक्षी,मरियम,शोएब, अंकुर,शेरिष,श्रेयांश, श्री,आयुषी,रोनेन,यर्थाथ,सिमरा,माही,श्रेया,रीति,विधी,ईशा, अनुभूति,हिबा,अंशुमान,रिद्धिमा,करण, संस्कृति, सृष्टि,शिवांशी,आयशा,सेजल,प्रज्ञा, सुयोग्यता इत्यादि बच्चों ने अपनी मनमोहक प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया कार्यक्रम के अंत में प्रधानाचार्या तुहीना श्रीवास्तव व हेड मिस्ट्रेस संचिता श्रीवास्तव ने मंच संचालित कर रही छात्रा निदा व स्टाफ मेम्बर्स को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सङ्गीत अध्यापक व डांस टीचर को सफ़ल कार्यक्रम सम्पन्न होने पर विशेष रूप से सराहना की ।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.