राष्ट्रीय अध्यक्ष जनता के बीच जा जाकर उनके मन की बात जान रहे -RLD

लखनऊ 16 अक्टूबर राष्ट्रीय लोक दल के प्रदेश कार्यालय पर राष्ट्रीय सचिव अनिल दुबे, टीम आर एल डी के राष्ट्रीय संयोजक अनुपम मिश्रा, प्रदेश प्रवक्ता एस एन त्रिवेदी, प्रदेश प्रवक्ता ऐश्वर्य राज सिंह ने संयुक्त रूप से प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह के 7 अक्टूबर से शुरू हुए आशीर्वाद पथ कार्यक्रमों को हर जिले में अपार जनसमर्थन मिल रहा है,यह इस बात का साफ संकेत है कि प्रदेश की जनता ने इस जनविरोधी सरकार को हटाकर सत्ता परिवर्तन का मन बना लिया है। आज जनता महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, बिगड़ती कानून व्यवस्था, किसानों के उत्पीड़न आदि से पूरी तरह आजिज़ आ चुकी है। किसानों पर जुल्म,बेरोजगारी, महंगाई और भ्रष्टाचार की सभी सीमाएं पार हो चुकी है।

हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जनता के बीच जा जाकर उनके मन की बात जान रहे हैं और समझ रहे हैं और जनता से आशीर्वाद ले रहे है। आशीर्वाद पथ कार्यक्रम में चौधरी जयंत सिंह को समाज के सभी वर्गों द्वारा पगड़ी पहनाई जा रही है जो दर्शाता है कि “सर्व समाज का आशीर्वाद, चौधरी जयंत सिंह के साथ”। जनता के इसी जुड़ाव के साथ आगामी विधानसभा चुनाव हेतु ” लोक संकल्प पत्र” भी तैयार हो रहा है। जिसमें सीधे-सीधे आम जनता से सुझाव मांगे जा रहे हैं। इन्हीं सुझावों के आधार पर राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह का वादा है कि अगर हमारी सरकार प्रदेश में आती है तो हम किसानों से लेकर गरीबों, महिलाओं से लेकर छात्रो-युवाओं और मजदूरों से लेकर वंचितों को सामाजिक और आर्थिक रूप से सबल बनाएंगे। इसके लिए राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह ने आम जनता और लोक संकल्प समिति से रायशुमारी के बाद #22_के22संकल्प तैयार किए हैं,जिनकी घोषणा वो आर्शीवाद पथ कार्यक्रमों में कर रहे है।

राष्ट्रीय सचिव अनिल दुबे ने बताया कि 7 अक्टूबर को श्रद्धेय चौधरी चरण सिंह जी की जन्मस्थली नूरपूर की मढैया (हापुड़) से चौधरी जयंत सिंह ने “चौधरी चरण सिंह किसान सम्मान निधि” के तहत किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए प्रदेश के किसानों को 12000 और सीमांत व असिंचित किसानों को 15000 रुपए किसान सम्मान निधि देने की बात कही।

टीम आर एल डी के राष्ट्रीय संयोजक अनुपम मिश्रा ने बताया कि 9 अक्टूबर को चौधरी जयंत सिंह ने असंगठित क्षेत्र में कार्यरत शहरों में मज़दूरी कर रहे श्रमिकों के उत्थान हेतु “मा. कांशीराम शहरी श्रमिक सम्मान योजना” की घोषणा की। जिसके तहत मनरेगा की तर्ज़ पर शहरी क्षेत्र में रहने वाले श्रमिकों की आय सुनिश्चित की जाएगी और शहर के श्रमिकों को सुनिश्चित रोजगार की गारंटी मिलेगी। लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी की जयंती के अवसर पर लोक संकल्प पत्र में चौधरी जयंत सिंह ने “सर्वोदय योजना” के अंतर्गत महत्त्वपूर्ण घोषणाएं की जो निम्न प्रकार है-

★विश्व के प्रतिष्ठितविश्वविद्यालयो में दाखिला पाने वाले ओबीसी,एससी/एसटी छात्रों के लिए स्कॉलरशिप योजना।

★पंचायती राज संस्थाओं को वित्तीय अधिकार देंगे।

★संविधान के अनुच्छेद 243 में 73वें संशोधन के तहत पंचायती राज व्यवस्था को मजबूत करने का काम करेंगे।

★अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन राशि के रूप में 1 लाख रूपये देंगे।

★आर्थिक असमानता को कम करने और सभी वर्गों की आर्थिक प्रगति के पथ निर्माण हेतु एससी/एसटी और दिव्यांगों के लिए 2500 करोड़ का एंट्रोप्रोन्योर फंड और कृषि स्टार्टअप्स के लिए 2500 करोड़ का विशेष फंड।

★अल्पसंख्यकों के साथ समाज के सभी वर्गों के लिए सुरक्षा की गारंटी इसके साथ ही चौधरी जयंत सिंह ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश, बुंदेलखंड और पूर्वांचल में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना का भी वादा किया ताकि आम जनता को सुलभ न्याय मिल सके।

प्रदेश प्रवक्ता एस एन त्रिवेदी ने बताया कि सादाबाद, हाथरस आशीर्वाद पथ कार्यक्रम में आलू किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए चौधरी जयंत सिंह ने कहा कि “सरकार में आने पर आलू किसानों को उपज का लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए MSP घोषित करेगी जो लागत के डेढ़ गुना मूल्य पर आधारित होगा।आलू को सार्वजनिक वितरण प्रणाली से जोड़कर अंत्योदय कार्ड धारकों को प्रति यूनिट राशन के अतिरिक्त 3 किलो आलू भी दिया जाएगा।आलू आधारित उद्योग स्थापित किए जाएंगे और आगरा में अत्याधुनिक आलू अनुसंधान केंद्र एवं आलू निर्यात जोन की स्थापना होगी”

प्रदेश प्रवक्ता ऐश्वर्य राज सिंह ने बताया कि अगौता, बुलन्दशहर में चौधरी जयंत सिंह ने पुलिस सुधार हेतु कहा कि “पुलिस सुधार हेतु सुप्रीम कोर्ट द्वारा प्रकाश सिंह केस में दिए गए फैसलों को लागू करेंगे।

● पुलिसकर्मियों की ड्यूटी का समय 8 घण्टे निर्धारित करेंगे, ओवरटाइम भी देंगे।

● बॉर्डर स्किम को हटाकर,गृहजनपद के आस-पास के जिलों में पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी।

● लंबित भर्ती जो पूर्ण नहीं हो पाई (2016 दरोगा भर्ती) उन्हें पूर्ण करना। ग्रेडपे,भत्तों में वृद्धि करेंगे।

● पुलिस थानों में तैनात स्टाफ के दो अलग-अलग विंग बनेगी – एक कानून व्यवस्था (लॉ एंड ऑर्डर) व दूसरा विंग केवल जांच (इनवेस्टिगेशन) मामलों को देखेगा।

● महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस भर्तियों में 50 फीसदी पदों पर महिलाओं की भर्ती होगी।

अनुपम मिश्रा ने बताया कि आज 16 अक्टूबर को चौधरी जयंत सिंह ने गंगोह, सहारनपुर और मुरादनगर में निम्नलिखित घोषणाएं की-

“डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम विजन प्लान”

  1. Startup को प्रोत्साहन देने के लिए प्रदेश के स्कूल एवं कॉलेजों में इन्क्यूबेशन सेंटर्स की स्थापना।

2.Innovation और Research को बढ़ावा देने के लिए हर वर्ष पेटेंट हासिल करने वाले 100 स्टार्टअप या वैज्ञानिकों को 1 करोड़ रुपये का ” डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्रतिभा सम्मान”। Artificial Intelligence, blockchain एवं renewable energy के क्षेत्रों पर विशेष बल।

  1. 2030 तक⁃ सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी की पढाई और वोकेशनल ट्रेनिंग की व्यवस्था, सरकारी स्कूलों एवं कॉलेज में कंप्यूटर लैब और इन्टरनेट की व्यवस्था और विश्वविद्यालयों में सभी छात्रों को कैंपस क्षेत्र में WiFi के माध्यम से इन्टरनेट की सुविधा।
  2. सभी छात्रों के लिए ऑनलाइन लाइब्रेरी की सुविधा दी जाएगी जहां देश-विदेश की किताबें तथा लेटेस्ट रिसर्च पेपर छात्रों के लिए बिना किसी खर्चे के उपलब्ध होंगे।
  3. ‘Dr. APJ Abdul Kalam University for Drone & Pilotless Technologies’ की स्थापना। यह साउथ एशिया में अपनी तरह की पहली यूनिवर्सिटी होगी।

अनिल दुबे ने बताया कि-

●प्रदेश की सभी 707 नगरीय स्थानीय निकायों( 17 नगर निगम, 200 नगर पालिका परिषद एवं 490 नगर पंचायत) में 2030 तक सीवरेज कार्य पूर्ण करेंगे।

●50,000 ई-बसों की खरीद करेंगे।

●हाथ से मैला ढोने (मैनुअल स्कैवेंजिंग) की प्रथा को खत्म कर मशीनीकृत सफाई को अनिवार्य बनाया जाएगा।

●सरकारी शिक्षकों की बॉर्डर स्कीम को हटाएंगे।

●प्राइवेट स्कूलों की फीस निर्धारित करेंगे।

●वृद्धावस्था पेंशन को 1500 रूपये कर वर्तमान का 3 गुणा करेंगे।

अनुपम मिश्रा ने बताया कि #22_के22संकल्प के तहत आगे के आशीर्वाद पथ कार्यक्रमों में भी चौधरी जयंत सिंह लोक संकल्प 2022 में सम्मिलित संकल्पों की घोषणा करेंगे। जिनसे जनता के हर वर्ग को लाभ मिलेगा और प्रदेश में एक समावेशी और सर्वांगीण विकासोन्मुखी सरकार अस्तित्व में आएगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह की यह आशीर्वाद पथ यात्रा बीते 7 अक्टूबर को चौधरी चरण सिंह जी की जन्मस्थली हापुड़ के नूरपुर गाँव से शुरू हुई थी। जो अलीगढ़ के खैर, मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना, अमरोहा के नौंगावा सादात, हाथरस के सादाबाद होते हुए बुलंदशहर के अगौता तक पहुंच चुकी है। आज सहारनपुर के गंगोह, गाजियाबाद के मुरादनगर में आशीर्वाद पथ कार्यक्रम है। 18 अक्टूबर को आगरा के फतेहपुर सीकरी, मथुरा के बाजना, 20 अक्टूबर को बिजनौर के चांदपुर, गौतमबुद्धनगर के जेवर, 25 अक्टूबर को शामली के थानाभवन, मेरठ के सिवालखास, 28 अक्टूबर को रामपुर के बिलासपुर, मुरादाबाद के कांठ के बाद आशीर्वाद पथ का समापन 30 अक्टूबर को बड़ौत में होगा।

श्री त्रिवेदी ने बताया कि इसके बाद यात्रा के दौरान जनता से मिले आशीर्वाद और सुझावों को समाहित करते हुए 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह लखनऊ में “लोक संकल्प 2022 “को जारी करेंगे।

ऐश्वर्य राज सिंह ने बताया कि 15 अक्टूबर को आधुनिक “ऑग्मेंटेड रियलिटी” तकनीक के जरिए 5 लाख लोगों तक पहुँच चौधरी जयंत सिंह ने लोक संकल्प पत्र के लिए सुझाव माँगे है। घोषणा पत्र में ज्यादा से ज्यादा लोगों से रायशुमारी और सुझाव लेने के लिए आधुनिक तकनीक का सहारा ले रहा है। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह ने देश मे पहली बार ऑग्मेंटेड रियलिटी तकनीक से बने लिंक को जारी कर ‘लोक संकल्प2022’ के लिए सुझाव माँगे। “सोच सही एप्रोच नई” के साथ राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह घोषणा पत्र में प्रदेश की जनता के ज्यादा से ज्यादा सुझाव लेने के लिए आधुनिक तकनीक का सहारा ले रहे है।

अनुपम मिश्रा ने अंत में बताया कि जहां आम जनता और समाज के सभी वर्गों से रायशुमारी के लिए ‘लोक संकल्प संवाद” आयोजित किए गए है वहीं 2 अक्टूबर को प्रदेश भर के 59000 ग्राम प्रधानों को पत्र लिखकर भी चौधरी जयंत सिंह ने सुझाव माँगे है। लोक संकल्प 2022 के सोशल मीडिया हैंडल्स और व्हाट्सएप नंबर पर भी लाखों सुझाव मिल चुके ह

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.