कोरोना से बचाव कार्यों के साथ ही अनुरक्षण एवं निर्माण कार्य की समीक्षा की

रिपोर्ट-योगेश कुमार

गोरखपुर, 18 मई, 2021: पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक विनय कुमार त्रिपाठी ने 18 मई,2021 को वर्चुअल बैठक के माध्यम से पूर्वोत्तर रेलवे पर कोरोना से बचाव कार्यों के साथ ही अनुरक्षण एवं निर्माण कार्य की समीक्षा की ।

इस वर्चुअल बैठक में प्रमुख विभागाध्यक्ष एवं तीनों मंडलों के मंडल रेल प्रबन्धकों ने भाग लिया । समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुये महाप्रबन्धक श्री त्रिपाठी ने कहा कि रेलकर्मियों को कोरोना से बचाने के लिये टीकाकरण के योग्य शत प्रतिषत कर्मचारियों को टीका का कार्य यथाषीघ्र पूरा किया जाय । पूर्वोत्तर रेलवे पर अभियान चलाकर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है

जिसके फलस्वरूप अभी तक रेलवे सुरक्षा बल/रेलवे सुरक्षा विषेष बल सहित टीकाकरण के योग्य 17215 अर्थात् 90.3 प्रतिषत कर्मचारियों को वैक्सीन की प्रथम डोज दी गई, जबकि 6507 अर्थात् 34.1 प्रतिषत कर्मचारियों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी जा चुकी है।

उन्होंने शेष कर्मचारियों को भी यथाषीघ्र वैक्सीन लगाने जाने का निर्देष सम्बन्धित अधिकारियों को दिया । इसके साथ ही 18 से 45 वर्ष आयु के भी रेलकर्मियों के टीकाकरण हेतु मंडलों एवं मुख्यालय के अधिकारियों को निदेर्षित किया गया ।
बैठक को सम्बोधित करते हुये महाप्रबन्धक त्रिपाठी ने कहा कि रेल कर्मचारियों एवं अधिकारियों के कोविड संक्रमण के बाद 60 प्रतिषत से ज्यादा के स्वस्थ होकर वापस कार्य पर आने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार हुआ है। उन्होंने इस कठिन परिस्थिति में कार्य कर रहे सभी रेलकर्मियों एवं अधिकारियों को बधाई एवं शुभकामनायें दीं।
महाप्रबन्धक ने संरक्षा मदों की समीक्षा करते हुये कहा कि रेलपथ के डि-स्टैªसिंग का कार्य समय से पूरा किया जाय तथा इन कार्यों को पूरा करने के दौरान कोविड प्रोटोकाल का पूरा ध्यान रखा जाय । उन्होंने पूर्वोत्तर रेलवे पर चल रही निर्माण परियोजनाओं जैसे- आर.ओ.बी./अण्डरपास, आमान परिवर्तन, दोहरीकरण एवं विद्युतीकरण कार्यों में प्रगति लाने का निर्देष दिया, जिससे कि पूर्वोत्तर रेलवे पर चल रही परियोजनायें समय से पूरी हो सकें।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.