योगी सरकार नौजवानों को नौकरी न देने के लिए पीईटी नाम का दे रही है झुनझुना : वंशराज

ब्यूरो-गौरव बाजपेयी

प्रारंभिक अहर्ता परीक्षा को केवल क्वालीफाई नेचर का रखा जाए : वंशराज दुबे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा प्रारंभिका अहर्ता परीक्षा (PET) लागू होने पर आम आदमी पार्टी छात्र विंग ( सीवाईएसएस) उत्तर प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे ने सरकार के ऊपर हमला बोला है।

‘आप’ छात्र विंग प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे ने कहा कि योगी सरकार की तरफ से प्रदेश के युवाओं को पिछले 4 सालों से रोजगार के नाम पर सिर्फ और सिर्फ गुमराह करते हुए उनके बहुमूल्य समय व जीवन को बर्बाद किया जा रहा है। प्रदेश सरकार की समूह ग के विभिन्न पदो की भर्तियों को कराने की जिम्मेदारी जिस उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पर है वह वर्तमान सरकार की ही नहीं, पिछली सरकारों की लटकी भर्तियों को पूरा नहीं कर सका है।

उन्होंने कहा कि कागजों को रोजगार देने के नाम पर इन्होंने प्रारंभिका अहर्ता परीक्षा (PET) का एक झुनझुना पकड़ा दिया है, जिसमें यह तक ना बताया गया कि उसकी परीक्षा कब तक होगी रिजल्ट कब तक आएगा उसके बाद आने वाले भर्तियों के विज्ञापन की भी कोई जानकारी नहीं है। सरकार भर्तियां ना निकालकर प्रारंभिक अहर्ता परीक्षा कराने जा रही है जिससे एक बात तो साफ है सरकार रोजगार नहीं देना चाहती है और आखरी साल भी बर्बाद करना चाहती हैं।

वंशराज दुबे ने आगे कहा कि जिस सरकार ने 4 सालों में एक भी भर्ती नही पूरी कराई वह आखरी साल में प्रारंभिक अहर्ता परीक्षा के नाम पर नौजवानों को ठगने का कार्य कर रही हैं। आम आदमी पार्टी की छात्र विंग उत्तर प्रदेश (सीवाईएसएस) यह मांग करती हैं कि प्रारंभिक अहर्ता परीक्षा को केवल क्वालीफाई नेचर का रखा जाए, जिसका शिक्षक पात्रता परीक्षा की तरह एक कट ऑफ मार्क्स हो या फिर इसे वापस करके भर्तियों के विज्ञापन निकाले जाये। भर्तीयों के विज्ञापन अलग-अलग से ना निकाल कर एक साथ निकाले जाएं। जिससे ज्यादा छात्रो को मुख्य परीक्षा में बैठने का अवसर मिल सके।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.